Who Is Father in Daughter Life?

Fathers play a key role in the psychological development of their daughters from the moment they are born. The difference between a loving father and an absent father makes a huge difference in how the child grows up. When fathers are absent, either physically or emotionally, their daughters are effected in many negative ways. When fathers are present, and loving, their daughters develop a strong sense of self and are more confident in their abilities. In order to develop positive self-esteem, a healthy father-daughter bond is key.
              Hindi Translation

पिता उस समय से अपनी बेटियों के मनोवैज्ञानिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं जो वे पैदा होते हैं। एक प्यार करने वाले पिता और एक अनुपस्थित पिता के बीच का अंतर यह बताता है कि बच्चा कैसे बड़ा होता है। जब पिता अनुपस्थित होते हैं, या तो शारीरिक या भावनात्मक रूप से, उनकी बेटियों को कई नकारात्मक तरीकों से प्रभावित किया जाता है। जब पिता उपस्थित होते हैं, और प्यार करते हैं, तो उनकी बेटियों में आत्मबल की भावना विकसित होती है और वे अपनी क्षमताओं में अधिक आत्मविश्वास से युक्त होते हैं। सकारात्मक आत्म-सम्मान विकसित करने के लिए, एक स्वस्थ पिता-बेटी बंधन महत्वपूर्ण है।
Who Is Father in Daughter Life? Who Is Father in Daughter Life? Reviewed by Neelam on May 02, 2020 Rating: 5

2 comments:

Thank You for Response we will try to get more Better blogs

Powered by Blogger.